काले कुत्ता को खिलाएं रोटी तो केतु ग्रह होगा प्रसन्न, जानें कितने होंगे फायदे

लाल किताब और हिन्दू वैदिक ज्योतिष शास्त्र समेत कई धर्मशास्त्रों में अनेक ऐसे उपाय बताए गए हैं, जोकि आपकी किस्मत का चुटकियों में बदल सकते हैं। वहीं अगर लाल किताब की मानें तो लाल किताब में मानव जीवन को सुखमय बनाने के सैकड़ों उपाय बताए गए हैं, जिन्हें प्रयोग में लाकर आप अपनी गरीबी, घर में क्ले, नौकरी, बिजनेस और सुख-ऐश्वर्य आदि में बढ़ोत्तरी कर सकते हैं।

Created By : Mukesh on :27-03-2022 13:14:46 प्रतीकात्मक खबर सुनें

लाल किताब और हिन्दू वैदिक ज्योतिष शास्त्र समेत कई धर्मशास्त्रों में अनेक ऐसे उपाय बताए गए हैं, जोकि आपकी किस्मत का चुटकियों में बदल सकते हैं। वहीं अगर लाल किताब की मानें तो लाल किताब में मानव जीवन को सुखमय बनाने के सैकड़ों उपाय बताए गए हैं, जिन्हें प्रयोग में लाकर आप अपनी गरीबी, घर में क्ले, नौकरी, बिजनेस और सुख-ऐश्वर्य आदि में बढ़ोत्तरी कर सकते हैं। वहीं लाल किताब में काले कुत्ते के कई उपाय बताए गए हैं जोकि आपके जीवन को सुखमय बनाने में कारगर हो सकते हैं। तो आइए जानते हैं काले कुत्ते से जुड़े कुछ उपायों के बारे में...
आप काले कुत्ते को प्रतिदिन नियमपूर्वक सुबह-शाम रोटी खिलाएं। ध्यान रखें कि कुत्ता काला ही होना चाहिए। तथा कुत्ते के नाखुनों की संख्या 22 अथवा 22 से अधिक हो। क्योंकि लाल किताब के अनुसार 22 नाखुनों वाला कुत्ता केतु का साक्षात स्वरूप माना जाता है और ऐसा कुत्ता आपकी किस्मत बदलने का कारगर उपाय साबित हो सकता है।
ऐसे कुत्ते को सुबह शाम नियम से रोटी खिलाने से आपका रूका हुआ पैसा वापस मिल जाता है। काला कुत्ता अचानक आने वाले संकट से भी आपको बचाता है। ऐसा काला कुत्ता आप पर आने वाला संकट और परेशानियों को अपने ऊपर ले लेता है और समय आने पर आपके लिए अपनी जान पर भी खेल सकता है। काला कुत्ता आपकी आर्थिक समस्याओं को जड़ से मिटा कर देता है और आपके पास पैसा ठहरने लगता है। काले कुत्ते को रोटी खिलाने से आपको कई बीमारियों जैसे पेट की बीमारियां, जोड़ों के दर्द और अन्य बीमारियों से निजात मिल जाती है। काला कुत्ता प्रेत बाधा से मुक्ति दिलाने में मददगार साबित होता है। काले कुत्ते को रोटी देने से आपको कर्ज से मुक्ति भी मिल सकती है। काले कुत्ते को पालने से आपको कारोबार में सफलता और धन के मामले में सफलता प्राप्त होती है।
Disclaimer: इस स्टोरी में दी गई सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं। Desh Rojana Portal किसी भी अंधविश्वास और इन तथ्यों की किसी प्रकार से कोई पुष्टि नहीं करता है। इन तथ्यों पर अमल करने से पहले संबंधित ज्योतिषी, आचार्य तथा विशेषज्ञ से संपर्क करें।

Share On