वोटर आईडी को आधार से लिंक करने का अभियान आज से शुरू, जानें कुछ खास बातें

चुनाव आयोग कई प्रदेशों में वोटर आईडी कार्ड को आधार कार्ड से जोड़ने के लिए आज से एक अभियान आरंभ कर दिया है। आयोग के अनुसार, वोटर आईडी कार्ड को आधार कार्ड से जोड़ने का काम वोटर की पहचान स्थापित करने और इलेक्टोरल रोल में एंट्रीज के ऑथेंटिकेशन के उद्देश्य से किया जा रहा है।

Created By : Pradeep on :01-08-2022 16:09:33 प्रतीकात्मक तस्वीर खबर सुनें

चुनाव आयोग कई प्रदेशों में वोटर आईडी कार्ड को आधार कार्ड से जोड़ने के लिए आज से एक अभियान आरंभ कर दिया है। आयोग के अनुसार, वोटर आईडी कार्ड को आधार कार्ड से जोड़ने का काम वोटर की पहचान स्थापित करने और इलेक्टोरल रोल में एंट्रीज के ऑथेंटिकेशन के उद्देश्य से किया जा रहा है। आपको बता दें कि चुनाव कानून (संशोधन) बिल, वोटर आईडी कार्ड के साथ आधार कार्ड को लिंक करने के लिए अधिकृत करता है। यह बिल लोकसभा में दिसंबर 2021 में ध्वनि मत से पारित किया गया था।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, चुनाव आयोग का खास अभियान महाराष्ट्र और झारखंड जैसे राज्यों में शुरू किया जा रहा है। हालांकि, यह लिंक करने की प्रक्रिया पूरी तरह से स्वैच्छिक है। लिंक करने के लिए मतदाताओं को मजबूर नहीं किया जाएगा।

NVSP की वेबसाइट पर करें रजिस्टर
आधार और वोटर आईडी कार्ड को लिंक करने के लिए सबसे पहले एनवीएसपी पोर्टल पर रजिस्टर करना होगा। वेबसाइट पर जाकर नए यूजर ऑप्शन पर क्लिक करें। इसके बाद मोबाइल नंबर और अपना कैप्चा दर्ज करें। अब मोबाइल पर एक ओटीपी आएगा जिसे दर्ज करें। इसे डालते ही आपके सामने एक पेज खुलेगा, जिसमें अपनी सारी जानकारी दर्ज करें। अब Submit बटन पर क्लिक करके आपकी सारी जानकारी रजिस्टर हो जाएगी। बता दें कि वोटर लिस्ट को आधार कार्ड से जोड़ने का काम 31 मार्च 2023 तक पूरा किया जाना है।

आधार से वोटर आईडी को लिंक करने की प्रक्रिया
एनएसवीपी पोर्टल के होम पेज पर इलेक्टोरल रोल पर क्लिक करें। फिर अपनी वोटर आईडी की डिटेल या फिर ईपीक नंबर और अपना राज्य बताएं। अब दाएं तरफ फीड आधार नंबर दिखाई देगा। इस पर क्लिक करते ही एक नया विंडो खुल जाएगा। जिसमें आपसे आधार कार्ड की डिटेल्स और EPIC नंबर डालें। इसके बाद आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर या ईमेल आईडी पर ओटीपी आएगा। इसे दर्ज करते ही स्क्रीन पर आधार और वोटर आईडी के लिंक होने पर नोटिफिकेशन दिखाई देगा।

Share On