गलती से पाक सीमा में गई मिसाइल, भारत की मिसाइल प्रणाली बेहद सुरक्षित: रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को राज्यसभा में कहा कि भारत की मिसाइल प्रणाली अत्यंत सुरक्षित है और देश का रक्षा प्रतिष्ठान सुरक्षित प्रक्रियाओं तथा मानकों को सर्वोच्च प्राथमिकता देता है।

Created By : Pradeep on :15-03-2022 16:48:34 रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह खबर सुनें

नई दिल्ली
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को राज्यसभा में कहा कि भारत की मिसाइल प्रणाली अत्यंत सुरक्षित है और देश का रक्षा प्रतिष्ठान सुरक्षित प्रक्रियाओं तथा मानकों को सर्वोच्च प्राथमिकता देता है। रक्षा मंत्री ने यह भी कहा कि दुर्घटनावश मिसाइल दागे जाने की घटना की जांच के बाद अगर किसी तरह की खामी का पता चलता है तो सरकार उसे दूर करने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि देश की मिसाइल प्रणाली अत्यंत सुरक्षित है।

ये भी पढ़ें

प्रियंका चौपड़ा सहित इन हसीनाओं के साथ जुड़ चुका है रणबीर कपूर का नाम

रक्षा मंत्री सिंह ने दुर्घटनावश मिसाइल दागे जाने की घटना पर राज्यसभा में दिए गए एक बयान में कहा कि भारत अपनी शस्त्र प्रणाली की सुरक्षा और संरक्षा को सर्वोच्च प्राथमिकता देता है। उन्होंने कहा कि भारत की सुरक्षा संबंधी प्रक्रियाएं और मानक अत्यंत उच्च स्तरीय हैं और उसके सशस्त्र बल बेहतरीन और पूरी तरह से प्रशिक्षित तथा अनुशासित हैं।

ये भी पढ़ें

Bank Holidays: बैंक संबंधी कार्य कल ही करा लें पूर्ण, होली पर लगातार चार दिन बंद रहेंगे Bank

9 मार्च को भारत की तरफ से दागी गई मिसाइल पाकिस्तान में गिर गई थी। उस घटना के तुरंत बाद भारत ने बयान दिया कि कोई मकसद नहीं था। ऑपरेशनल प्रक्रिया में मिसाइल गिरी है। अब इस विषय पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने संसद के दोनों सदनों में जानकारी दी है। दरअसल भारत की तरफ से एक मिसाइल गलती से उसके इलाके में गिर गई और पाकिस्तान होहल्ला मचाने लगा।

ये भी पढ़ें

होली वीकेंड पर पर्यटन केन्द्रों की मांग सबसे अधिक, 50% भारतीयों की पहली पसंद बना गोवा

भारत की तरफ से उस वक्त ही सफाई में कहा गया कि गलती से मिसाइल गिरी उसके पीछे कोई मकसद नहीं था। पाकिस्तान ने अमेरिका तक गुहार लगाई लेकिन अमेरिका ने भी कहा कि ऐसा लगता है कि मिसाइल गलती से गिरी थी। अब इस विषय पर संसद के दोनों सदनों में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि पाकिस्तान की सीमा में मिसाइल गलती से ही गिरी थी। अब यह गलती किस स्तर पर हुई वो जांच के बाद ही पता चल पाएगा।

Share On