चीन में डेल्टा वेरिएंट का कहर, कई क्षेत्रों में तेजी से शुरू की गई टेस्टिंग

भारत के पड़ोसी देश चीन में कोरोना का प्रकोप एक बार फिर से बढ़ता जा रहा है। यहां पर कोरोना वायरस के डेल्डा वेरिएंट के सबसे ज्यादा केस सामने आ रहे हैं। उत्तर पूर्व शहरों से आने वाले लोगों की एंट्री को शहर में बंद कर दिया गया है। जहां पर संक्रमण बहुत तेजी से बढ़ रहा है।

Created By : Pradeep on :15-11-2021 18:12:10 खबर सुनें

भारत के पड़ोसी देश चीन में कोरोना का प्रकोप एक बार फिर से बढ़ता जा रहा है। यहां पर कोरोना वायरस के डेल्डा वेरिएंट के सबसे ज्यादा केस सामने आ रहे हैं। उत्तर पूर्व शहरों से आने वाले लोगों की एंट्री को शहर में बंद कर दिया गया है। जहां पर संक्रमण बहुत तेजी से बढ़ रहा है। बीते एक सप्ताह में उत्तरपूर्वी शहर दलियान में डेल्टा वेरिएंट के सबसे ज्यादा मामले देखे गए हैं।

समाचार एजेंसी रॉयटर्स की रिपोर्ट के मुताबिक, 17 अक्टूबर से 14 नवंबर के बीच मुख्य जगह पर 1308 मामले दर्ज हुए। जबकि 1280 लोकल मामले ग्रीष्मकालीन डेल्टा वेरिएंट के मामले देखने को मिले। चीन में सबसे ज्यादा डेल्टा के वेरिएंट को चिन्हित किया गया है, जिसने 21 राज्यों, क्षेत्रों और नगर निगमों को प्रभावित किया है। ये बहुत छोटा है अन्य देशों में टूटे रिकॉर्ड के मुकाबले लेकिन चीन के अधिकारी सरकार की जीरो टॉलरेंट गाइडलाइंस के तहत इसे रोकने की तैयारी कर रहे हैं। दर्जनों प्रांतीय स्तर क्षेत्रों में एक सप्ताह के अंदर नियंत्रित किया गया है। जोखिम भरे इलाकों में बहुत तेजी से लोगों की टेस्टिंग की गई। लोगों का कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग के जरिए पता लगाया गया।
वहीं जोखिम वाले इलाकों में सरकार की तरफ से मनोरंजन, सांस्कृतिक स्थलों, टूरिज्म और सार्वजनिक परिवाहन पर रोक लगा दी गई। हालांकि, बीते शनिवार को राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने आधिकारिक तौर पर बताया कि उत्तरपूर्व शहर के दलियान प्रतिबंध लगा दिया गया है। इसमें वू लियांगयू भी शामिल है। दलियान शहर में 4 नंबर को सबसे पहला मामला इस वायरस का सामने आया था। 75 लाख की आबादी वाले इस शहर में एक दिन में 24 नए लोकल मामले सामने आए।

Share On