कांग्रेस के नए अध्यक्ष बनाए जा सकते हैं सचिन पायलट! G-23 सदस्यों की मांग के बाद चर्चाएं तेज

कांग्रेस के दिग्गज नेता गुलाम नबी आजाद के घर मीटिंग हुई। जहां G-23 सदस्यों ने कांग्रेस का स्थायी राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाने की मांग उठाई। इस दौरान सचिन पायलट के नाम पर भी चर्चा हुई।

Created By : Shiv Kumar on :12-03-2022 15:51:44 सचिन पायलट खबर सुनें

एजेंसी, जयपुर।
यूपी, पंजाब सहित 5 राज्यों के विधानसभा चुनावों में कांग्रेस को करारी हार झेलनी पड़ी है। वहीं अब कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद के घर शुक्रवार की शाम को मीटिंग हुई। इस मीटिंग में कांग्रेस का स्थायी राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाए जाने पर चर्चा हुई। वहां जी-23 के सदस्यों ने सचिन पायलट को कांग्रेस के स्थायी राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाए जाने की मांग उठाई।

ये भी पढ़ें

कैसा रहेगा आपके लिए ये रविवार, जानें आज का राशिफल (today horoscope 13 March 2022)


जी-23 सदस्यों के मुताबिक पंजाब सहित पांच राज्यों में कांग्रेस के शर्मनाक हार के बाद कांग्रेस का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाया जाना जरूरी हो गया है। वैसे इसको लेकर चुनावों से पूर्व भी कई मीटिंग हो चुकी हैं। सियासी जानकारों के मुताबिक कांग्रेस को युवा अगुवा की आवश्यकता है। कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के नहीं बनाए जाने पर अगले दावेदार सचिन पायलट हो सकते हैं।


सचिन पायलट जमीनी स्तर पर कार्य करने वाले यूथ लीडर हैं। इसके अलावा सचिन पायलट में दायित्व निभाने व लोगों को साथ लेकर चलने की क्षमता है। राजस्थान के पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट ने राजस्थान में कांग्रेस को मजबूती दी है। उनके अगुवाई में राजस्थान में भारी संख्या में यूथ कांग्रेस से जुड़े हैं। इन स्थितियों में कहा जा सकता है कि पायलट काफी जल्द कांग्रेस की कमान संभालते हुए दिखाई दें।

ये भी पढ़ें

Women World Cup: भारत ने 155 रन से वेस्‍टइंडीज को दी करारी शिकस्‍त, शीर्ष पर पहुंची भारतीय महिला टीम


आपको बता दें कि संसदीय चुनावों में कांग्रेस के पराजित होने पर राहुल गांधी ने कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद से इस्तीफा दिया था। बाद में उनकी मां सोनिया गांधी को कांग्रेस का अंतरिम अध्यक्ष बनाया गया। सोनिया गांधी को 2024 तक कांग्रेस का अंतरिम प्रमुख बने रहने के लिए चुना गया था। विधानसभा चुनावों में कांग्रेस को सभी राज्यों में करारी हार झेलने पड़ी है। पंजाब में सीएम चरणजीत सिंह अपने दोनों सीटों से विधानसभा चुनाव में पराजित हो गए। इसके अलावा नवजोत सिंह सिद्धू, अमरिंदर कौर और उत्तराखंड में पूर्व सीएम हरीश रावत को भी हार का सामना करना पड़ा है।

Share On