रक्तदान करने से दिल, दिमाग व सेहत में होता है सुधार: डॉ.अरविंद

हरियाणा के नूंह में ब्लड बैंक नागरिक अस्पताल मांडीखेडा में स्वाथ्य कर्मियों ने स्वैच्छिक रक्तदान शिविर आयोजित किया। जहां सबसे पहले उप-सिविल सर्जन डा. अरविन्द ने रक्तदान किया और कहा कि रक्तदान करने से दिल, दिमाग और सेहत में सुधार होता है।

Created By : Shiv Kumar on :28-01-2022 20:12:22 रक्तदान करते हुए उप-सिविल सर्जन डॉ. अरविंद। खबर सुनें

शेरसिंह डागर, नूंह।
26 जनवरी गणतंत्र दिवस के उपलक्ष्य में वीरवार को ब्लड बैंक नागरिक अस्पताल मांडीखेडा में स्वाथ्य कर्मचारी व अधिकारियों द्वारा स्वैच्छिक रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया। जिसमें उप-सिविल सर्जन डा. अरविन्द ने सबसे पहले रक्तदान किया। डा. अरविंद ने बताया कि लोगों द्वारा रक्त दान करने से दिल की सेहत में सुधार, दिल की बीमारियों और स्ट्रोक के खतरे को कम माना जाता है। खून में आयरन की ज्यादा मात्रा दिल के दौरे के खतरे को बढ़ा सकती है।नियमित रूप से रक्तदान करने से आयरन की अतिरिक्त मात्रा नियंत्रित हो जाती है। जो दिल की सेहत के लिए अच्छी है।

ये भी पढ़ें

कांग्रेस ने भाजपा सरकार पर लगाया राष्ट्र की सुरक्षा दाव पर लगाने का आरोप


उन्होंने बताया कि कई बार मरीजों के शरीर में खून की मात्रा इतनी कम हो जाती है कि उन्हें किसी और व्यक्ति से ब्लड लेने की आवश्यकता पड़ जाती है। ऐसी ही इमरजेंसी स्थिति में खून की आपूर्ति के लिए लोगों को रक्तदान करने के लिए आगे आना चाहिए। इससे जरुरत मंद की मदद हो सकेगी।
उन्होंने बताया कि सभी लोग अगले 15 दिन तक ब्लड बैंक नागरिक अस्पताल मांडीखेडा में आकर रक्तदान कर सकते हैं। कुल 16 यूनिट रक्त इक्कटठा किया गया। इस अवसर पर डॉ हेमन्त, डॉ प्रीती, ब्लड बैंक इचार्ज डॉ स्वाति यादव व अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

Share On