पत्नी के नाजायज संबंधों का पता लगने पर पति ने प्रेमी को फंसाने के लिए रची हैरान करने वाली साशिज, खुद हो गया गिरफ्तार

हरियाणा के फरीदाबाद में पत्नी के नाजायज संबंधों का पता लगने पर दुखी पति ने प्रेमी को फंसाने के लिए हैरान करने वाली साशिज रच डाली और खुद इसमें फंसकर गिरफ्तार हो गया। क्योंकि इस शख्स ने सराय मेट्रो स्टेशन पर बम रखने की योजाना से संबंधित पत्र रख दिया था। पुलिस ने कड़ी मशक्कत के बाद इसे दबोच लिया।

Created By : Shiv Kumar on :08-08-2022 21:52:06 पुलिस हिरासत में आरोपी पति। खबर सुनें

देश रोजाना, फरीदाबाद
एसीपी मेट्रो विनोद कुमार एवं क्राइम ब्रांच बॉर्डर प्रभारी इंस्पेक्टर सेठी मलिक की टीम ने मेट्रो स्टेशन पर बम रखने के पत्र का पदार्फाश करते हुए एक आरोपी को गिरफ्तार किया है। पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी का नाम रामबीर है जो यूपी के नानपुर, मुरादाबाद का निवासी है। आरोपी की उम्र 21 वर्ष है। क्राइम ब्रांच की टीम ने तकनीकी व गुप्त सूचना पर आरोपी को गिरफ्तार किया है।

ये भी पढ़ें

खुद को सीएम योगी का एडवाइजर बताता था श्रीकांत त्यागी, पुलिस की सात टीमें कर रही हैं तलाश

पूछताछ में सामने आया कि आरोपी की पत्नी पूजा (बदला हुआ नाम) काम की तलाश में आठ जुलाई को घर से बिना बताए फरीदाबाद आई थी। आरोपी को पत्नी की फरीदाबाद में होने की सूचना प्राप्त हुई जिसके बाद वह 26 जुलाई को फरीदाबाद आया और पत्नी के साथ रहने पर उसे शक हुआ कि उसका मनीष नामक व्यक्ति के साथ नाजायज संबंध चल रहे हैं। पति अपनी पत्नी से नाराज होकर वापस यूपी अपने गांव चला गया पर वहां जाकर उसके दिमाग में चलता रहा कि उसकी पत्नी उसे धोखा दे रही है और पत्नी के रास्ते से प्रेमी को हटाने के लिए वह फिर से फरीदाबाद आया जहां उसने अपनी पत्नी के प्रेमी को फंसाने की साजिश रची।आरोपी ने मनीष को फसाने के लिए उसके नाम से एक पत्र लिखा जिसमें उसने सराय ख्वाजा मेट्रो स्टेशन को बम रखने की योजना व बैंक की कैश वैन लूटने का पत्र लिखा व पत्नी के प्रेमी मनीष का मोबाइल नंबर लिख दिया ताकि उसे पुलिस पकड़कर ले जाए।

ये भी पढ़ें

धार्मिक पर्यटन और विकास का यूपी मॉडल, सूबे ने विश्व पटल पर अपनी नई शिनाख्त गढ़ी

पहचान छिपाने के लिए ढक लिया चेहरा, लंगड़ाकर चला आरोपी
पत्नी के प्रेमी से बदला लेने के मकसद से आरोपी सराय मेट्रो स्टेशन पहुंचा व अपनी पहचान छिपाने के लिए अपने चेहरे को ढक लिया और लंगड़ाकर चलने लगा ताकि सीसीटीवी कैमरे में देखने पर भी वह पहचान में ना आ सके। आरोपी मेट्रो स्टेशन पर पत्र छोड़कर वहां से चला गया। मेट्रो की सुरक्षा में तैनात सीआईएसएफ को यह पत्र मिला तुरंत फरीदाबाद पुलिस ने कार्रवाई करते हुए एक केस दर्ज किया। एसीपी मेट्रो विनोद कुमार एवं क्राइम ब्रांच बॉर्डर की टीम ने सीसीटीवी फुटेज, विशेष सूत्रों की सहायता से आरोपी को दबोच लिया।

ये भी पढ़ें

दुष्कर्म कर वीडियो वायरल करने का आरोपित गिरफ्तार


एसीपी मेट्रो विनोद कुमार का इस कार्रवाई में रहा अहम योगदान
एसीपी मेट्रो विनोद कुमार का इस मामले में अहम योगदान रहा जिन्होंने कड़ी मशक्कत करते हुए आरोपी को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की। आरोपी के खिलाफ थाना मेट्रो में मुकदमा दर्ज किया गया है। आरोपी को अदालत में पेश कर पुलिस रिमांड पर लिया जाएगा। जिसमें आरोपी से मामले में गहनता से पूछताछ की जाएगी।

Share On