महालक्ष्मी साबर मंत्र के जाप से प्रसन्न होती हैं धन की देवी, भर देती हैं आपके धन के भंडार

मंत्रों में काफी शक्ति होती है और मंत्रों में देवी-देवताओं के प्राण बसते हैं। वहीं हम बात करते हैं मां लक्ष्मी के चमत्कारी और गुप्त मंत्र के बारे में। अगर कोई भी व्यक्ति गलती से भी इस मंत्र को सुन भी लेता है तो उसकी गरीबी, दरिद्रता, पाप-दोष सब दूर हो जाते हैं और वह धन से मालामाल हो जाता है।

Created By : Mukesh on :24-03-2022 12:35:02 प्रतीकात्मक खबर सुनें

मंत्रों में काफी शक्ति होती है और मंत्रों में देवी-देवताओं के प्राण बसते हैं। वहीं हम बात करते हैं मां लक्ष्मी के चमत्कारी और गुप्त मंत्र के बारे में। अगर कोई भी व्यक्ति गलती से भी इस मंत्र को सुन भी लेता है तो उसकी गरीबी, दरिद्रता, पाप-दोष सब दूर हो जाते हैं और वह धन से मालामाल हो जाता है। अगर कोई भी इंसान इस मंत्र को सुबह-शाम सच्चे मन से सुन ले तो उसी दिन से उसे धन की प्राप्ति होने लगती है और उस व्यक्ति की सारी इच्छा पूरी होने लगती हैं। वहीं अगर इस मंत्र को 11 बार सुना जाए तो आपको किसी ना किसी माध्यम से पैसों की प्राप्ति जरुर होती है। वहीं इस मंत्र को अगर 21 बार बोल कर सोए तो आपको सपने के माध्यम से गुप्त धन दिखायी देने लगता है। वहीं यह मंत्र कल्प वृक्ष के समान है। आप खुद ही इस मंत्र का जाप करके दें तो आप जो चाहोगे वहीं चीज आपको प्राप्त हो जाएगी।
हिन्दू मान्यताओं के अनुसार साबर मंत्र बहुत ही शक्तिशाली मंत्र होते हैं। साबर मंत्र की महिमा महादेव जी ने माता पार्वती को बतायी है। साबर मंत्र कलयुग में तो कल्पवृक्ष के समान है। इस मंत्र को सुनने मात्र से आपकी सारी इच्छाओं की पूर्ति होती है। हमारे सारे पाप , कष्ट और दरिद्रता है वह सब समाप्त हो जाती है।
मंत्र
लक्ष्मी देवी तुम्हें मनाऊं मैं
गुलाब का इत्र और पेडा चढ़ाऊं मैं
यह मुरादें पूरी कर दो मेरी
घी का दीपक जलाऊं मैं।
ऊँ ह्रिम श्रीं महालक्ष्मी दैवियै नम:
अगर इस मंत्र में देवी मां लक्ष्मी को बुलाकर इत्र और पेडा चढाकर आप घी का दीपक जलाकर आप इस मंत्र का जाप करें तो निश्चित रुप से जो भी आपको जीवन में चाहिए वह सब मां लक्ष्मी आपको प्रदान करेंगी।
Disclaimer: इस स्टोरी में दी गई सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं। Desh Rojana Portal किसी भी अंधविश्वास और इन तथ्यों की किसी प्रकार से कोई पुष्टि नहीं करता है। इन तथ्यों पर अमल करने से पहले संबंधित ज्योतिषी, आचार्य तथा विशेषज्ञ से संपर्क करें।

Share On