वायु प्रदूषण से दिल्ली एनसीआर में घुटा दम! हरियाणा सरकार ने गुरुग्राम समेत चार जिलों में स्कूल किए बंद

वायु प्रदूषण की वजह से दिल्ली एनसीआर में स्थितियां बिगड़ गई हैं। इन हालातों के बीच हरियाणा सरकार ने बड़ा कदम उठाते हुए गुरुग्राम सहित चार जिलों में स्कूलों को 17 नवंबर तक बंद करने का निर्णय लिया है। वहीं सरकार का ये आदेश तत्काल प्रभाव से लागू हो गया है।

Created By : Shiv Kumar on :14-11-2021 20:40:50 खबर सुनें
ये भी पढ़ें

आग लगने से 6 कमरों का एक मकान पूरी तरह से जलकर राख, एक युवक की जिंदा जलकर मौत

एजेंसी, गुरुग्राम।
वायु प्रदूषण की वजह से दिल्ली-एनसीआर समेत देश के अलग-अलग क्षेत्रों में लगातार स्थितियां बिगड़ रही हैं। दिल्ली सरकार के बाद अब हरियाणा सरकार ने बड़ा फैसला लिया है और फरीदाबाद, गुरुग्राम, सोनीपत व झज्जर में स्कूलों को 17 नवंबर तक बंद करने का निर्णय लिया है। वहीं हरियाणा सरकार ने कहा कि इसको लेकर ये निर्देश तत्काल प्रभाव से लागू हो गया है। साथ ही ये आदेश 17 नवंबर तक प्रभावी रहेगा।
आपको बता दें ये फैसला ऐसे समय में आया है कि तब एक दिन पहले ही दिल्ली सरकार ने बच्चों को वायु प्रदूषण के प्रतिकूल प्रभाव से बचाने के लिए 15 नवंबर से एक सप्ताह के लिए स्कूलों को बंद कर दिया है। इस दौरान बच्चों की वर्चुअल कक्षाएं लगेंगी।
सभी कार्यालय वर्क फ्रॉम होम पर कर दिए गए
स्कूलों को बंद करने के साथ ही दिल्ली सरकार ने सरकारी कार्यालयों के कार्य को घर से ही करने के लिए कहा गया है। वहीं प्राइवेट ऑफिस के लिए कहा गया है कि सप्ताहभर जो संभव हो पाए, उतना कार्य घरों से ही कराए जाने का आग्रह किया गया है।
वहीं हरियाणा सरकार की ओर से तमाम सरकारी व प्राइवेट ऑफिस को वर्क फ्रॉम होम पर स्विच करने का सुझाव दिया गया है। जिससे सड़कों पर चलने वाली गाड़ियों को 30 प्रतिशत तक घटाया जा सके।
सभी निर्माण कार्यों पर भी लगाई रोक
हरियाणा सरकार ने इन चार जिलों में तमाम तरह के निर्माण व विकास गतिविधियों पर भी पूर्ण रूप से रोक लगा दी है। ये भी निर्देश जारी किया गया है कि नगर निकायों को कचरा जलाने की भी इजाजत नहीं होगी। वहीं पराली जलाने पर भी रोक रहेगी। वहीं सड़कों की नियमित सफाई को कहा गया है।
शीर्ष अदालत ने जाहिर की थी चिंता
दिल्ली और गुरुग्राम समेत एनसीआर के क्षेत्रों में प्रदूषण की स्थिति पर बीते दिनों शीर्ष अदालत ने चिंता जताई। दिल्ली के आसपास शुक्रवार को वायु गुणवत्ता सूचकांक 471 पर पहुंच गया। जोकि इस मौसम का सबसे खराब स्तर है। इसके अलावा सुप्रीम कोर्ट ने शनिवार को भी प्रदूषण को लेकर चिंता जताई व कहा कि हम अपने ही घरों में मास्क पहनने पर मजबूर हो गए हैं।

Share On