इमरान खान बने रहेंगे पाकिस्तान के पीएम, राष्ट्रपति का ट्वीट- जल्द होगी कार्यवाहक प्रधानमंत्री की नियुक्ति

इमरान अहमद खान नियाजी पाकिस्तान के प्रधानमंत्री के रूप में बने रहेंगे। राष्ट्रपति ने ट्वीट कर कहा है कि इस्लामी गणराज्य पाकिस्तान के संविधान के अनुच्छेद 224 ए (4) के तहत इमरान खान कार्यवाहक प्रधानमंत्री की नियुक्ति तक प्रधानमंत्री के तौर पर बने रहेंगे।

Created By : Shiv Kumar on :04-04-2022 15:22:02 पाकिस्तान सियासत खबर सुनें

एजेंसी, इस्लामाबाद।
पाकिस्तान के राष्ट्रपति आरिफ अल्वी ने सोमवार को एक अधिसूचना जारी की। जिसके मुताबिक, इमरान खान एक कार्यवाहक प्रधानमंत्री की नियुक्ति तक पाकिस्तान के प्रधानमंत्री के तौर पर बने रहेंगे। अधिसूचना में बोला गया है कि वर्तमान प्रधानमंत्री कार्यवाहक पीएम की नियुक्ति तक पद पर बने रहेंगे। राष्ट्रपति ने ट्वीट कर बताया कि इमरान अहमद खान नियाजी, इस्लामी गणराज्य पाकिस्तान के संविधान के अनुच्छेद 224 ए (4) के अनुसार कार्यवाहक पीएम की नियुक्ति तक प्रधानमंत्री के तौर पर बने रहेंगे।

ये भी पढ़ें

एक्शन में सीएम योगी आदित्यनाथ: प्रतापगढ़ के एसडीएम को किया सस्पेंड, जानें क्या है मामला


पाकिस्तानी मीडिया रिपोर्ट के अनुसार इमरान खान की पार्टी पीटीआई ने कार्यवाहक प्रधानमंत्री पद के लिए राष्ट्रपति आरिफ अल्वी को दो नाम भेजे हैं। यह सूचना मंत्री फवाद चौधरी द्वारा दी गई है। फवाद चौधरी ने बताया कि यदि संयुक्त विपक्ष ने सात दिनों के अंदर नामों को अंतिम रूप नहीं दिया तो पीटीआई द्वारा सुझाए गए नामों में से शीर्ष प्रत्याशी कार्यवाहक प्रधानमंत्री बन जाएगा। इससे पूर्व कैबिनेट सचिवालय ने एक अधिसूचना जारी कर बताया था कि इमरान खान तत्काल प्रभाव से पाकिस्तान के पीएम पद छोड़ते हैं। वैसे संविधान के अनुच्छेद 94 के तहत राष्ट्रपति अपने उत्तराधिकारी के पीएम का पदभार संभालने तक मौजूदा पीएम को पद पर बने रहने के लिए बोले सकते हैं। राष्ट्रपति अल्वी ने पीएम इमरान खान के सुझाव पर नेशनल असेंबली को भंग कर दिया है।


सर्वोच्च न्यायालय में होगी सुनवाई
अब पाकिस्तान का सर्वोच्च न्यायालय पीएम इमरान खान के खिलाफ नेशनल असेंबली में लाया गया अविश्वास प्रस्ताव खारिज किए जाने व इमरान खान की सिफारिश पर सदन भंग करने को राष्ट्रपति द्वारा मंजूरी दिए जाने के केस पर सोमवार को सुनवाई करेगा। इससे एक दिन पहले यानी कि रविवार को सर्वोच्च न्यायालय ने देश में ताजा सियासी स्थितियों पर स्वत: संज्ञान लिया था। पाकिस्तानी राष्ट्रपति आरिफ अल्वी ने देश के पीएम इमरान खान की सिफारिश पर नेशनल असेंबली को भंग कर दिया है। इससे कुछ ही देर पहले एनए के उपाध्यक्ष कासिम सूरी ने पीएम इमरान खान के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव को खारिज कर दिया था। इमरान खान ने संसद के निचले सदन, 342 सदस्यीय नेशनल असेंबली में प्रभावी तौर पर बहुमत खो दिया था। पाकिस्तान सुप्रीम कोर्ट के प्रधान न्यायाधीश उमर अता बंदियाल ने पाकिस्तान की ताजा सियासी हालत पर स्वत: संज्ञान लेते हुए कहा था कि नेशनल असेंबली को भंग करने के संबंध में पीएम व राष्ट्रपति द्वारा शुरू किए गए तमाम आदेश व कदम कोर्ट के आदेश पर निर्भर होंगे। साथ ही उन्होंने इस हाई-प्रोफाइल केस की सुनवाई एक दिन के लिए स्थगित कर दी थी।

Share On