टी20 विश्व कप में दीपक चाहर का खेलना मुश्किल, भारत की तैयारियों को बड़ा झटका

पावरप्ले में विकेट निकालने में दीपक चाहर माहिर हैं। दीपक चाहर बल्ले के साथ भी कामयाब पारियां खेल सकते हैं। दक्षिण अफ्रीका व वेस्टइंडीज के खिलाफ दीपक चाहर ने शानदार प्रदर्शन किया था। पर अब टी20 विश्व कप में दीपक चाहर का खेलना मुश्किल है।

Created By : Shiv Kumar on :14-04-2022 12:51:40 दीपक चाहर खबर सुनें

एजेंसी, दिल्ली।
आईपीएल के माध्यम से टी20 विश्व कप की तैयारियों में जुटी भारतीय टीम को बड़ा झटका लगा है। ऑलराउंडर दीपक चाहर 4 माह के लिए मैदान से दूरी बना सकते हैं। इस स्थिति में दीपक चाहर का टी20 विश्व कप में खेलना भी कठिन है। वेस्टइंडीज के खिलाफ श्रृंखला के दौरान दीपक चाहर की मांसपेशियों में खिंचाव आया था। इसके बाद अप्रैल महीने के अंत तक दीपक चाहर की वापसी की उम्मीद जाहिर की गई थी। पर अब दीपक चाहर की पीठ में भी चोट लगी है। ऐसे में दीपक चाहर चार माह के लिए क्रिकेट से दूर रह सकते हैं। इस स्थिति में हार्दिक पांड्या या शार्दुल ठाकुर में से किसी एक को मौका मिलना लगभग तय है।

ये भी पढ़ें

Khargone Violence: उपद्रवियों का तलवार लहराते हुए वीडियो वायरल, अब तक 100 आरोपियों की हो चुकी है गिरफ्तारी


जानकारी के अनुसर एनसीए में प्रशिक्षण कर रहे दीपक चाहर दूसरी बार चोटिल हुए हैं। इसी वर्ष फरवरी माह में वेस्टइंडीज के खिलाफ श्रृंखला के दौरान दीपक चाहर की मांसपेशियों में खिंचाव आया था। इस चोट से उबरने के लिए वह एनसीए में अभ्यास कर रहे थे। साथ ही दीपक चाहर अप्रैल के अंत तक फिट होने की उम्मीद थी। अब दीपक चाहर आईपीएल से बाहर हो चुके हैं। साथ ही वह टी20 विश्व कप से भी बाहर हो सकते हैं।

चेन्नई टीम को भी लगा बड़ा झटका
दीपक चाहर पावरप्ले के दौरान विकेट निकालने में माहिर हैं। साथ ही दीपक चाहर की बेटिंग को ध्यान में रखते हुए चेन्नई की टीम ने उन्हें 14 करोड़ की कीमत पर अपने साथ जोड़ा था। पर वह इस सत्र अपनी टीम के लिए कोई मुकाबला नहीं खेल पाए हैं। इसका असर चेन्नई की टीम के प्रदर्शन पर भी पड़ा है। शुरुआती चार मुकाबले गंवाने के बाद चेन्नई की टीम को पांचवें मुकाबले में जीत नसीब हुई है। इस मुकाबले में चेन्नई के बल्लबाजों ने सत्र का सबसे बड़ा स्कोर बनाया, तब जाकर बॉलर 23 रन से विजय दिला पाए।

ये भी पढ़ें

सीएम सचिव ने गुरु तेग बहादुर सिंह जी के 400वें प्रकाश पर्व को धूमधाम से मनाने के दिए निर्देश, डीसी जितेंद्र यादव ने कसी कमर

दीपक चाहर के आईपीएल से बाहर होने के बाद चेन्नई का प्लेऑफ में पहुंचना कठिन प्रतित हो रहा है। क्योंकि चेन्नई टीम की गेंदबाजी काफी कमजोर हो गई है। चेन्नई को केवल बल्लेबाजों के दम पर प्लेऑफ में स्थान बनाना कठिन होगा। चेन्नई के लिए पावरप्ले में दीपक चाहर का रिकॉर्ड काफी बेहतर है। दीपक चाहर ने 58 पारियों में पावरप्ले के दौरान 42 विकेट झटके हैं। साथ ही दीपक चाहर ने 7.61 की इकोनॉमी रेट से रन खर्चे हैं। वहीं उनके स्थान पर टीम से जोड़े गए मुकेश चौधरी कुछ खास नहीं कर पाए हैं।

ये भी पढ़ें

Ambedkar Jayanti: जयंती के अवसर पर देश कर रहा है डॉ भीमराव अंबेडकर को याद

टीम इंडिया में तय थी दीपक चाहर की जगह
दीपक चाहर का टीम इंडिया में खेलना करीब-करीब तय था। दीपक चाहर शुरुआती ओवरों में नई गेंद को स्विंग कराने में माहिर रखते हैं। साथ ही अंत में दीपक चाहर बल्ले से भी उपयोगी पारियां खेल सकते हैं। दीपक चाहर की बल्लेबाजी में खास बात यह है कि बड़े शॉट लगाने के अतिरिक्त उन्हें एक और दो रन लेकर खेल चलाना भी आता है। शुरुआती विकेट जल्दी गिरने पर ऐसे खिलाड़ी बहुत कामयाब साबित होते हैं। दक्षिण अफ्रीका व वेस्टइंडीज के खिलाफ श्रृंखला में दीपक चाहर ने बॉलिंग और बेटिंग दोनों से प्रभावित किया था। यह टी20 विश्व कप ऑस्ट्रेलिया में होगा। ऑस्ट्रेलिया में तेज गेंदबाजों को मदद मिलती है। ऐसे में दीपक चाहर का खेलना लगभग तय था पर उनके चोटिल होने के बाद हार्दिक पांड्या या शार्दुल ठाकुर को मौका मिल सकता है। दोनों लगातार 140 की गति से बॉलिंग कर रहे हैं। साथ ही दोनों बेट से भी शानदार पारियां खेल रहे हैं।

Share On