हर मां के लिए जरूरी है कि वे अपनी बेटी को सिखाएं कुछ बातें

माएं घर गृहस्थी में इतना बिजी रहती हैं कि वह अपने ऊपर ध्यान नहीं दे पाती हैं। इसलिए बेटी को अपनी माँ को मेकअप करना और उन्हें ट्रेंडिंग चीजों से भी रू ब रू जरूर कराना चाहिए।

Created By : Pradeep on :26-02-2022 18:22:07 हर मां के लिए जरूरी है कि वे अपनी बेटी को सिखाएं कुछ बातें खबर सुनें

एक मां और उसकी बेटी के बीच का बंधन सबसे मधुर होता है। मां-बेटी की बाँडिंग सबसे डिफरेंट होती है और ये रिश्ता कभी ना टूटने वाला होता है। लेकिन जब-जब बेटी बड़ी हो रही होती है तो माँ की उसके प्रति और भी जिम्मेदारी बड़ जाती है। माँ-बेटी के बीच का यही सबसे अनोखा पल होता है जब एक मां और बेटी अच्छे बुरे की बातें आपस में करती हैं। आइए जानते है उन बातों के बारे में जो माँ-बेटी को करनी चाहिए।

उसके अंदर स्वाभिमान का विकास करें
माँ-बेटी एक-दूसरे को यह बताएं कि वह जैसी भी है सुन्दर है और उन्हें अपने आप को ऐसे ही पसंद करना चाहिए। एक-दूसरे के अंदर स्वाभिमान और आत्मविश्वास का विकास करें।

स्वतंत्र बनाएं
एक-दूसरे को यह सिखाना बहुत जरूरी है कि वह स्वतंत्र बने और हर उम्र में अपना काम खुद कर सके। अपने कामों के लिए वह दूसरों पर निर्भर ना रहे।

अपना बचाव करना सिखाएं
आजकल महिलाओं के साथ जो अत्याचार हो रहे हैं, यह बहुत जरूरी है कि आप एक-दूसरे को अपने बचाव के तरीके सिखाएं ताकि वह अपने आप को अपरिचित लोगों से बचा सके। अपना बचाव करना सिखने के लिए दोनों इसका प्रशिक्षण लें।
आत्माभिव्यक्ति का महत्व बताएं
एक माँ को अपनी बेटी को बताना चाहिए कि अपनी मन की बात कहना जरूरी है और किसी परिस्थिति में दृढ़ता के साथ बोलना भी जरूरी होता है। साथ ही मां को भी अपनी बेटी से भी मन की सारी बातें शेयर करनी चाहिए।

मेकअप टिप दें
माएं घर गृहस्थी में इतना बिजी रहती हैं कि वह अपने ऊपर ध्यान नहीं दे पाती हैं। इसलिए बेटी को अपनी माँ को मेकअप करना और उन्हें ट्रेंडिंग चीजों से भी रू ब रू जरूर कराना चाहिए। साथ ही माँ को भी अपनी बच्ची को मेकअप करना, हील वाली सैंडल में चलना, बाल संवारना आदि सिखाना चाहिए। इससे आप दोनों का रिश्ता और मजबूत हो सकता है।

एक दूसरे को बनाएं मजबूत
भागदौड़ भरी जिंदगी में हर कोई डिप्रेशन का शिकार हो रहा है। ऐसे में एक दूसरे को डिप्रेशन में जाने से रोकें। मॉर्निंग वॉक पर जाएं। जिम जॉइन करें। डिप्रेशन से लड़ने के लिए जरूरी है कि एक दूसरे को मानसिक रूप से मजबूत बनाएं।

शॉपिंग पर जाएं
ज्यादातर माएं शॉपिंग करने नहीं जाती हैं। वह हमेशा अपनी फैमिली के लिए सेविंग करना जानती हैं। ऐसे में बेटी का फर्ज़ है की वह अपनी माँ के साथ शॉपिंग पर जाये साथ ही कुछ मस्ती के पलों को एंजॉय करें।

Share On