41 दिनों तक नियमपूर्वक करें बजरंग बाण पाठ, बरसेगी असीम कृपा

बजरंग बली आज भी पृथ्वी पर विराजमान हैं। भगवान हनुमान की पूजा आराधना करने से मनुष्य हर प्रकार के भय से मुक्त हो जाता है। इनकी पूजा करने से आत्मविश्वास में वृद्धि होती है। ज्यादातर लोग हनुमान चालीसा का पाठ करते है। बताते चलें कि हनुमान चालीस के साथ ही बजरंग बाण का पाठ करना चाहिए है।

Created By : Pradeep on :24-01-2022 14:08:38 प्रतीकात्मक तस्वीर खबर सुनें

बजरंग बली आज भी पृथ्वी पर विराजमान हैं। भगवान हनुमान की पूजा आराधना करने से मनुष्य हर प्रकार के भय से मुक्त हो जाता है। इनकी पूजा करने से आत्मविश्वास में वृद्धि होती है। ज्यादातर लोग हनुमान चालीसा का पाठ करते है। बताते चलें कि हनुमान चालीस के साथ ही बजरंग बाण का पाठ करना चाहिए है। इससे बजरंग बली जल्दी प्रसन्न होते है और भक्तों को बजरंगबली की असीम कृपा प्राप्त होती है। आईये आपको बताते हैं कि किस नियम से करें बजरंग बाण का पाठ....
इस तरह करें बजरंग बाण पाठ
भगवान हनुमान प्रभु श्री राम के भक्त हैं, इसलिए बजरंग बाण में मुख्य रूप से भगवान् राम की भी सौगंध के लिए कुछ पंक्तियां दी गई है। ऐसा माना जाता है कि जब भी आप श्री राम का सौगंध लेंगें, तो हनुमान जी आपकी मदद जरूर करेंगे। इसलिए पाठ में इन पक्तियों के जरूर पढ़ना चाहिए। इसी के साथ जितनी बार बजरंग बाण पाठ का संकल्प लें, उतनी बार रुद्राक्ष की माला से पाठ करें। अगर आप गिनती याद रख सकते हैं तो बिना माला के भी जाप कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें

अंक ज्योतिष मूलांक के अनुसार करें ये दान, जीवनभर होगी शुभ फलों की प्राप्ति

बजरंग का बाण पाठ करते समय ध्यान रखें कि शब्दों का उच्चारण साफ और स्पष्ट होना चाहिए। अगर आप किसी विशेष मनोकामना की पूर्ति के लिए बजरंग बाण का पाठ कर रहे हैं तो कम से कम 41 दिनों तक यह पाठ नियमपूर्वक करें। पाठ के दिनों में दौरान विशेष रूप से लाल रंग के कपड़े धारण करें।

Share On