मंडी आदमपुर का घमासान

मंडी आदमपुर के उपचुनाव का घमासान शुरू हो गया है । तीन नवम्बर को मतदान और छह नवम्बर को परिणाम ।

Created By : ashok on :08-10-2022 15:01:58 कमलेश भारतीय खबर सुनें


-कमलेश भारतीय
मंडी आदमपुर के उपचुनाव का घमासान शुरू हो गया है । तीन नवम्बर को मतदान और छह नवम्बर को परिणाम । दिल पे रखो हाथ श्रीमान्! सभी दल प्रत्याशियों के बारे में मंथन शुरू कर चुके हैं जबकि सबसे पहले प्रत्याशी की घोषणा की आप पार्टी ने ! भाजपा से आप में कुछ दिन पहले ही शामिल हुए सतेंद्र सिंह को प्रत्याशी बनाये जाने की घोषणा कर दी गयी है और शिक्षा सुधार की मुहिम चलाने वाले उमेश रतन शर्मा को टिकट से वंचित कर दिया गया । इस तरह दूसरी पार्टी से आने वाले को प्राथमिकता देना अब राजनितिक पार्टियों में आम बात हो गयी है । इससे सक्रिय कार्यकर्त्ता निराश हो जाता है । सिर्फ दरियां बिछाने के लिए तो कोई राजनीति में नहीं आता !

ये भी पढ़ें

गाँव के खेलों से मेल होना बहुत जरूरी


दूसरी ओर कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष उदयभान व नेता प्रतिपक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने भी कल चंडीगढ़ में प्रत्याशी के चयन को लेकर मंथन किया । इसी बीच प्रो सम्पत सिंह ने घोषणा कर दी कि वे या उनका बेटा गौरव दोनों ही टिकट के दावेदार नहीं क्योंकि वे सन् 2024 के विधानसभा चुनाव में नलवा विधानसभा क्षेत्र से ही ताल ठोकेंगे ! इस तरह अब प्रत्याशी की दौड़ में पूर्व केंद्रीय मंत्री जयप्रकाश जेपी ही सबसे आगे हैं । वैसे प्रदीप बेनीवाल , कर्ण सिंह रानोलिया और रामनिवास घोड़ेला के नाम भी इस दौड़ में शामिल बताये जा रहे हैं ! प्रदीप बेनीवाल बिश्नोई सभा के अध्यक्ष भी रहे और इनके पिता पोकरमल कभी चौ भजनलाल के खासमखास माने जाते रहे लेकिन कुलदीप बिश्नोई के साथ प्रदीप की नहीं निभी । यहां तक कि जिस बिश्नोई सभा के प्रदीप अध्यक्ष रहे , उसी के सदस्य भी न रहने दिया । इस तरह बिश्नोई समाज पर कुलदीप एकछत्र राज होने का दावा नहीं कर सकते ! इसी बीच पूर्व सीपीएस अनिता यादव अपने बेटे सम्राट यादव के साथ इसी बैठक में कांग्रेस में लौट आईं ।


भाजपा की ओर से कुलदीप बिश्नोई यह चाहते है कि उनके बेटे भव्य को टिकट दी जाये जबकि भाजपा कुलदीप को ही मैदान में उतारने के मूड में है ! कुलदीप कह रहे हैं कि अब उनकी इच्छा केंद्र की राजनीति करने की है यानी अगला चुनाव वे लोकसभा क्षेत्र हिसार से लड़ने के संकेत दे रहे हैं जबकि भव्य को मंडी आदमपुर से राजनीतिक विरासत सौंपना चाहते हैं ! यह भाजपा को फैसला करना है कि पिता पुत्र में से किसे चुनाव मैदान में उतारे ! वैसे भाजपा की बैठक में कुलदीप को ही मजबूत प्रत्याशी माना गया है ! इसलिए कुलदीप यह भी कह रहे हैं कि जो पार्टी कहेगी , वह आदेश भी मान्य होगा !

ये भी पढ़ें

चोरी की पांच बाइक के साथ तीन गिरफ्तार


जजपा की ओर से भी चुनाव लड़ने की तैयारी है और इसके प्रत्याशी का फैसला अजय चौटाला पर छोड़ा गया है । इनेलो भी चुनाव मैदान में उतरेगी और अभय चौटाला फैसला करेंगे लेकिन अभी तो बड़े चौटाला अस्पताल में स्वास्थ्य लाभ कर रहे हैं ! इस तरह मंडी आदमपुर उपचुनाव के लिए घमासान छिड़ गया है और प्रत्याशियों की बाट जनता देख रही है । देखते देखते पूरे मजे आने शुरू हो जायेंगे और सर्दी में भी गर्मी का अहसास होना शुरू हो जायेगा । फिर आप पृछोगे कि छोटे ! इतनी गर्मी क्यों लग रही है ,,,,?
-पूर्व उपाध्यक्ष, हरियाणा ग्रंथ अकादमी ।

Share On