मेहमान नवाजी में बहुत सौम्य हैं नेताजी

मेहमान नवाजी में हरियाणा वालों खासकर फरीदाबाद के लोगों का कोई तोड़ नहीं है। यहां अतिथि को बड़ा बनाने का प्रचलन हमेशा से रहा है। इसके चलते सामाजिक कार्यक्रमों में पक्ष-विपक्ष के लोग एक दूसरे की खूब मान मनुहार करते रहे हैं।

Created By : Pradeep on :27-11-2021 21:50:29 मेहमान नवाजी में बहुत सौम्य हैं नेताजी खबर सुनें

मेहमान नवाजी में हरियाणा वालों खासकर फरीदाबाद के लोगों का कोई तोड़ नहीं है। यहां अतिथि को बड़ा बनाने का प्रचलन हमेशा से रहा है। इसके चलते सामाजिक कार्यक्रमों में पक्ष-विपक्ष के लोग एक दूसरे की खूब मान मनुहार करते रहे हैं। अभी हाल ही में फरीदाबाद में आईपीएल क्रिकेट खिलाड़ी राहुल तेवतिया के सगाई समारोह में भी मेहमान नवाजी का यह नजारा दिखा जिसकी खूब चर्चा हुई। सगाई समारोह में कांग्रेस के राज्यसभा सदस्य दीपेंद्र हुड्डा जहां वधू पक्ष से मौजूद थे, तो वर पक्ष की अगुवाई मोदी टीम के खिलाड़ी कृष्ण पाल गुर्जर कर रहे थे। मिलनी के दौरान दीपेंद्र यानी छोटे हुड्डा ने नेताजी को कन्या पक्ष की तरफ सोने की चेन भेंट की तो नेताजी पूरी गर्मजोशी के साथ खिलखिलाते हुए छोटे हुड्डा जी के बगलगीर हुए। वैसे नेताजी की सौम्यता के हमेशा से ही चर्चे रहते हैं। इसी सौम्य स्वभाव के चलते वे पक्ष विपक्ष के नेताओं में अपना विशेष स्थान बनाए रखते हैं। किसी भी राजनीतिक दल में उनके चाहने वालों की कमी नहीं है।

ये भी पढ़ें

गांव बहीन में कई दिनों से खराब पड़ी मोटर हुई ठीक

और किसानों ने खाकी खादी दोनों को दी राहत

किसान आंदोलन एक वर्ष से पूरे खुमार पर है। यह गाहे-बगाहे सत्ता पक्ष के नेताओं के लिए परेशानी का कारण बनता रहा है। अभी हाल ही में गुरुपर्व के दिन पीएम मोदी ने कृषि सुधार कानूनों को वापस लेकर यह राह प्रशस्त कर दी थी कि शायद अब आंदोलन समाप्त हो जाए, लेकिन किसानों ने संसद में कानून वापसी होने तक तथा न्यूनतम समर्थन मूल्य की मांग पूरी होने तक सड़कें खाली करने से मना कर दिया था। किसानों ने 29 नवंबर को संसद के घेराव का ऐलान भी किया हुआ था। इसे लेकर सत्ता पक्ष के लोग खासा परेशान थे। पुलिस की भी सिरदर्दी बढ़ी हुई थी। शनिवार को दिल्ली में किसान संयुक्त मोर्चा ने पंचायत कर संसद कूच के ऐलान को स्थगित कर दिया। किसानों के इस ऐलान ने खाकी और खादी दोनों को पूरी राहत दे दी। वैसे किसानों के इस ऐलान ने दिल्ली-एनसीआर के लोगों को भी पूरा सुकून दिया है, क्योंकि जिस प्रकार ट्रैक्टरों के साथ दिल्ली जाने का ऐलान किया गया था, लोगों को 26 जनवरी की घटना भी याद आने लगी थी।


मुखिया जी दिल्ली में, धक-धक चंडीगढ़ तक

हरियाणा में मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर तथा विभिन्न बोर्डों व निगमों में चेयरमैन के पद भरने की बातें यदा-कदा उठती रहती हैं। हालांकि चर्चाओं का बाजार तो हमेशा गर्म रहता है, लेकिन जब सूबे के मुखिया दिल्ली दरबार में पहुंचते हैं तो चंडीगढ़ तक नेताओं में धक-धक शुरू हो जाती है। मंत्रिमंडल विस्तार से जहां भगवा दल वाले माननीयों के मन का मोर झूमने लगता है, तो चाबी वालों को लगता है कि उनकी मास्टर-की से ही सत्ता का ताला खुलेगा। निर्दलीयों को भी सचिवालय में दफ्तर की उम्मीद बंधने लगती है। कई नेता बोर्ड व निगम के चेयरमैन पद की उम्मीद भी लगाए हैं। मुखिया जी अभी शुक्रवार को ही प्रधानमंत्री मोदी से मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर मन की बात करके गए। तभी से सत्ता में भागीदारी की उम्मीद लगाए बैठे खादीधारियों के दिल तेज धड़कने लगे हैं। वैसे सियासी सूत्र बता रहे हैं कि प्रधानमंत्री जी ने मुखिया जी को उनके मन की बात पूरी करने की खुली छूट दे दी है। मनमाफिक फेरबदल करने की भी अनुमति मिल गई है। वैसे यह कोई पहली बार नहीं है, जब मोदी और मनोहर के मन एक हुए हों। पहले भी मोदी सार्वजनिक रूप से मुखिया जी पर सार्वजनिक रूप से अपना विश्वास जताते हुए उनकी पीठ थपथपा चुके हैं।


कहीं लक्ष्य में बाधा ना बन जाए भांजे राजा

पंचकूला की पुलिस ने हाल ही में एक एफआईआर दर्ज की है जिसमें कि अवैध रूप से हुक्का बार चलाए जाने का मामला सामने आया है। जिन लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है, उनमें एक आरोपित कथित रूप से विधानसभा अध्यक्ष का भांजा भी बताया जा रहा है। वैसे भी हुक्का बार को अनैतिक माना गया है। इससे युवा पथभ्रष्ट हो रहे हैं। अब जब से एफआईआर दर्ज होने की बात चली है, तब से सोशल मीडिया पर इस बात को जमकर ट्रोल किया जा रहा है। वैसे अध्यक्ष जी खुद काफी सुलझे हुए हैं। उनकी जहां आम जनमानस की नब्ज पर पकड़ है तो संगठन में भी ठीक-ठाक पैठ। अध्यक्ष जी के मनोहर मंत्रिमंडल के संभावित विस्तार में वजीर बनने की चर्चाएं लंबे समय से चल रही हैं। अब जबकि मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर चर्चाओं का बाजार पूरी तरह से गर्म है, ऐसे में अध्यक्ष जी के भांजे पर दर्ज एफआईआर कहीं लक्ष्य में बाधा न बन जाए।

Share On