न्यूड वीडियो बनाकर ब्लैकमेल करने वाले गिरोह का आरोपी गिरफ्तार, कई लोगों को बना चुकें हैं शिकार

लोगों को फर्जी कॉल कर न्यूड वीडियो बनाकर ब्लैकमेलिंग कर ठगी करने वाले गिरोह के एक आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

Created By : Pradeep on :29-07-2022 17:34:10 प्रेस वार्ता में जानकारी देते डीएसपी विजय पाल। खबर सुनें

Palwal crime news accused of blackmailing gang by making nude videos arrested

देश रोजाना, पलवल
लोगों को फर्जी कॉल कर न्यूड वीडियो बनाकर ब्लैकमेलिंग कर ठगी करने वाले गिरोह के एक आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। प्रेस वार्ता में जानकारी देते हुए डीएसपी ट्रैफिक पलवल विजय पाल सिंह ने बताया कि मनोज कुमार निवासी ग्राम बडोली ने थाना चांदहट जिला पलवल में 19 जनवरी को अपनी शिकायत दर्ज कराई कि उसके पास 10 जनवरी को मनीषा शर्मा नाम से मैसेंजर पर फ्रेंड रिक्वेस्ट आई, जिसको स्वीकार कर लिया। उसी समय एक नंबर से वीडियो कॉल आई और उसको उठा लिया। कॉल उठाने पर सामने से एक बिना कपड़ों की लड़की दिखाई दी थी।


तब तक वह कुछ समझ पाता 15-20 सेकंड हो गई और उसने वीडियो रिकॉर्ड कर ली। उसके कुछ देर बाद एक सीबीआई ऑफिसर बन उसके पास कॉल आई जिसने वीडियो रिकॉर्डिंग यूट्यूब पर अपलोड करने की धमकी देकर अलग-अलग समय में ऑनलाइन एवं नगद कुल ₹178000 की ठगी कर ली। प्राप्त शिकायत के आधार पर आरोपी के खिलाफ आईपीसी एवं आईटी एक्ट की धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया गया। डीएसपी ने बताया कि साइबर क्राइम थाना प्रभारी निरीक्षक सत्यवान की टीम ने एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। आरोपी की पहचान साजिद पुत्र अली मोहम्मद निवासी गांव ठेक थाना पुन्हाना जिला नूंह के रूप में हुई।

इस तरह देते थे वारदात को अंजाम

गहन पूछताछ के दौरान आरोपी ने बताया कि न्यूड विडियो के माध्यम से आनलाईन ठगी करने के लिये हमारे साथियों द्वारा असम, बिहार, पश्चिम बंगाल, झारखंड व अन्य राज्यों से फर्जी पते पर सिम खरीदकर लाये जाते हैं। उनको लाकर हमारे साथी अपने मोबाईल फोन में प्रयोग करते हैं। न्यूज विडियो बनाने के लिये स्क्रीन रिकार्डर एप की सहायता से वीडियो क्लिप रिकार्ड की जाती है और उसके बाद फर्जी नम्बरों से काल करते हैं।

फर्जी सीबीआई ऑफिसर बनकर, फर्जी पुलिस आफिसर बनकर, फर्जी यू टयूब मैनेजर बनकर वीडियो अपलोड करने की धमकी देकर डराते हैं और फिर फर्जी पतों पर बनाये गये बैंक खाते उस व्यक्ति के पास भेजते हैं, जिसकी वीडियो बनाई गई है। फर्जी खातों में धनराशि प्राप्त करके आपस मे मिलकर बांट लेते हैं।

डीएसपी ने बताया कि आरोपी को अदालत में पेश कर पुलिस रिमांड पर लिया जाएगा तथा पीड़ित से ठगे गए रुपयों की बरामदगी के प्रयास किए जाएंगे। नेटवर्क से जुड़े अपराधी शीघ्र ही पुलिस की गिरफ्त में होंगे।

Share On