Palwal Municipal Corporation Election: सुहाने मौसम के साथ लोगों ने किया मतदान, महिला मतदाताओं में दिखा खासा उत्साह

पलवल जिले में नगर परिषद चुनाव के लिए वोटिंग जारी है। पलवल में 2 बजे तक 47.1 प्रतिशत वोटिंग हो चुकी है। जबकि होडल में मतदान प्रतिशत 57 पर है। दोनों परिषदों में चेयरमैन के अलावा यहां वार्ड पार्षदों के लिए मतदाता शाम 6 बजे तक वोट डालेंगे।

Created By : Pradeep on :19-06-2022 16:07:18 सुहाने मौसम के साथ लोगों ने किया मतदान, महिला मतदाताओं में दिखा खासा उत्साह खबर सुनें

देश रोजाना, पलवल

रविवार को सुबह सात बजे बारिश के साथ पलवल व होडल क्षेत्र में मतदान की शुरुआत हुई। आसमान में गहरे काले बादल छाए और हल्की बूंदाबादी भी हुई। इससे लोगों को कुछ हद तक गर्मी से राहत जरूर मिली। उधर निर्वाचन आयोग सुहाने मौसम के चलते अच्छे मतदान की उम्मीद जता रहा था। हालांकि, मतदान की शुरुआत धीमी रही। शाम सात बजे तक पलवल शहर में 63.9 प्रतिशत व होडल शहर में 71.7 प्रतिशत पोलिंग हुई। जिन युवाओं ने पहली बार मतदान किया वे बहुत उत्साहित दिखे। उधर बड़ी संख्या में महिलाएं भी मतदान के लिये निकलीं। इसका एक कारण यह भी रहा कि जो वार्ड महिला प्रत्याशी के लिये रिजर्व थे, वहां वोट डालने के लिये महिलाओं में खासा उत्साह देखा गया। लाइनपार वार्ड सात में छह महिला प्रत्याशी हैं, जिनमें अधिकतर महिलाएं 21 से 32 आयु की हैं। वार्ड सात की महिला प्रत्याशी रेणु राणा ने बताया कि उनका मुख्य मुद्दा सफाई का है। वे चुनाव जीतकर नालियों की सफाई करवाना चाहतीं हैं। साथ ही अवैध रूप से शराब व जुआ सट्टा आदि नशे को वार्ड से खत्म करवाना चाहतीं हैं।

छिटपुट घटनाओं के साथ शांतिपूर्ण मतदान

पलवल जिले में नगर परिषद चुनाव के लिए मतदान छिटपुट घटनाओं को छोड़कर शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न हो गया। मतदान के बाद सभी प्रत्याशियों की किस्मत ईवीएम में कैद हो गई। चुनाव के नतीजे 22 जून को घोषित किए जांएगे। मतदान के दौरान लोगों में खासा उत्साह नजर आया। सुबह के समय मतदान की रफ्तार धीमी रही, लेकिन दोपहर में मौसम खुशनुमा होने के बाद मतदान की गति बढ़ गई।भाजपा के चेयरमैन प्रत्याशी डॉ यशपाल ने सरस्वती कॉलेज के पोलिंग बूथ में मतदान किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि जिस तरह भगवान इंद्र की कृपा आज पलवल शहर पर बरसी है, उसी तरह 22 जून को भी उन पर कृपा बरसेगी। निश्चित ही पलवल की जनता उन्हें इन चुनावों में आशीर्वाद देगी। हरियाणा सरकार में पूर्व मंत्री करण दलाल ने न्यू कॉलोनी में मतदान किया। मीडिया से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि इन चुनावों में भाजपा की हार निश्चित है। मतदान के लिए आए युवाओं में काफी उत्साह नजर आया। युवाओं ने कहा कि उन्होंने शहर की समस्याओं को ध्यान में रखकर मतदान किया है। मतदान प्रक्रिया में महिलाओं और बुर्जगों ने भी बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया।

आपको बता दें कि पलवल नगर परिषद में कुल 31 वार्ड हैं। 14 उम्मीदवार चेयरमैन पद के लिए मैदान में हैं और 136 प्रत्याशी पार्षद बनने के लिए चुनाव लड़ रहें हैं। चुनाव के दौरान हिंसा की घटना की बात करें तो कुसलीपुर गांव में दो पक्षों में एक पति द्वारा अपनी पत्नी को ईवीएम पर चुनाव निशान बताने को लेकर विवाद हो गया। बूथ के बाहार दोनों पक्षों में झगड़ा हो गया। झगड़े में ईट- पत्थर चलने से 6 लोगों को चोटें आई हैं जिन्हें उपचार के लिए अस्पताल भेज दिया गया। घटना की सूचना मिलते एसपी मुकेश कुमार मौके पर पहुंचे और भारी पुलिस बल तैनात कर दिया।

मतदान के दौरान पूरे जिले में सुरक्षा काफी चाकचौबंद रही। सुरक्षा की मद्देनजर भारी पुलिस बल तैनात किया गया। पलवल जिले में नगर परिषद चुनाव के लिए मतदान छिटपुट घटनाओं को छोड़कर शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न हो गया। मतदान के बाद सभी प्रत्याशियों की किस्मत ईवीएम में कैद हो गई। चुनाव के नतीजे 22 जून को घोषित किए जांएगे। मतदान के दौरान लोगों में खासा उत्साह नजर आया। सुबह के समय मतदान की रफ्तार धीमी रही, लेकिन दोपहर में मौसम खुशनुमा होने के बाद मतदान की गति बढ़ गई। भाजपा के चेयरमैन प्रत्याशी डॉ यशपाल ने सरस्वती कॉलेज के पोलिंग बूथ में मतदान किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि जिस तरह भगवान इंद्र की कृपा आज पलवल शहर पर बरसी है, उसी तरह 22 जून को भी उन पर कृपा बरसेगी। निश्चित ही पलवल की जनता उन्हें इन चुनावों में आशीर्वाद देगी। हरियाणा सरकार में पूर्व मंत्री करण दलाल ने न्यू कॉलोनी में मतदान किया। मीडिया से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि इन चुनावों में भाजपा की हार निश्चित है।

आपको बता दें कि पलवल नगर परिषद में कुल 31 वार्ड हैं। 14 उम्मीदवार चेयरमैन पद के लिए मैदान में हैं और 136 प्रत्याशी पार्षद बनने के लिए चुनाव लड़ रहें हैं। चुनाव के दौरान हिंसा की घटना की बात करें तो कुसलीपुर गांव में दो पक्षों में एक पति द्वारा अपनी पत्नी को ईवीएम पर चुनाव निशान बताने को लेकर विवाद हो गया। बूथ के बाहर दोनों पक्षों में झगड़ा हो गया। झगड़े में ईट- पत्थर चलने से 6 लोगों को चोटें आई हैं जिन्हें उपचार के लिए अस्पताल भेज दिया गया। घटना की सूचना मिलते एसपी मुकेश कुमार मौके पर पहुंचे और भारी पुलिस बल तैनात कर दिया।मतदान के दौरान पूरे जिले में सुरक्षा काफी चाकचौबंद रही। सुरक्षा की मद्देनजर भारी पुलिस बल तैनात किया गया।

पूरे दिन चुनाव की चर्चाएं रहीं जुबान पर :

चुनाव हों और चर्चाएं न हों, ऐसा कम-से-कम हिन्दुस्तान में तो संभव नहीं। चुनाव छोटे हों या बड़े, हमेशा खास होते हैं। मानो ये शब्द ही अपने आप में चर्चाओं और सुर्खियों के लिए पर्याप्त हों। हरियाणा निकाय चुनाव की तारीखों का ऐलान जिस दिन से हुआ, सरमर्गियों का दौर तो खैर तभी से तीव्र हो गया था। हमेशा की तरह... अरसे तक आराम करने वाले कुर्सीधारी, भविष्य में कुर्सी पर विराजमान होने वाले प्रत्याशी और उनके समर्थक सब एक सुर में पूरे उत्साह के साथ फटाक से यूं खड़े हुए कि अब दम तभी लेंगे जब प्रदेश के प्रत्येक शहर को विकास को चरम तक पहुंचा देंगे।

इस जोश का ग्राफ 19 जून को चरम पर भी दिखा, हरियाणा के अलग अलग चुनावी शहरों से प्रत्याशियों के उत्साह की तस्वीरें भी आईं और पलवल के प्रत्याशियों के जोश को तो हमने साक्षात देखा। वैसे जितना जोश प्रत्याशियों में रहा, उतना ही जनता जनार्दन में देखने को मिला। दिव्यांग, युवा, वृद्ध, अधेड़, महिलाएं सभी ने अपने मत का इस्तेमाल भी किया, अब इनके वोट किसके खाते में जीत लिखेंगे ये तो 22 जून की मतगणना के बाद आने वाले नतीजे ही बताएंगे। हां फिलहाल इस एक सच्चाई को आप किसी भी एंगल में झुटला नहीं सकते, कि चुनाव कितना ही छोटा क्यूं न हो, चुनाव खास होता है और पलवल निकाय चुनाव ने चुनाव शब्द की इस महत्ता को सार्थक किया है।

Share On