सोनीपत: बेरिकेड्स से टकराने के बाद कार में लगी भीषण आग, जिंदा जल गए MBBS के तीन छात्र

हरियाणा के सोनीपत में दर्दनाक सड़क हादसा हो गया है। यहां एक तेज रफ्तार कार बेरिकेड्स से जाकर टकरा गई और उसमें आग लग गई। इसी कार में लगी आग में तीन लोग जिंदा जल गए हैं। ये तीनों एमबीबीएस के छात्र थे।

Created By : Shiv Kumar on :23-06-2022 14:25:58 प्रतीकात्मक तस्वीर खबर सुनें

एजेंसी, सोनीपत
हरियाणा के सोनीपत जिले में तेज रफ्तार बड़े सड़क हादसे का कारण बनी है। जानकारी के अनुसार सोनीपत से निकलने वाली मेरठ झज्जर नेशनल हाईवे पर देर रात में एक तेज रफ्तार कार पत्थरों की बेरिकेड्स से जाकर टकरा गई। इसके बाद आई-20 कार में भीषण आग भड़क गई। कार में सवार तीन युवकों की आग में जिंदा जलकर मौत हो गई। वहीं इस हादसे में तीन गंभीर युवक गंभीर रूप से घायल हो गए। हादसे में जान गंवाने वाले तीनों युवक रोहतक पीजीआई एमबीबीएस के छात्र बताए जा रहे हैं। वहीं सड़क हादसे में घायल हुए युवकों को रोहतक पीजीआई रेफर किया गया है।

ये भी पढ़ें

उद्धव की कुर्सी जाना निश्चित! इन दो विकल्प को आजमाकर सत्ता बचा सकती है शिवसेना

प्राप्त सूचना के मुताबिक सभी कार सवार युवक रोहतक से हरिद्वार के लिए निकले थे। पुलिस ने तीनों शव पोस्टमार्टम के लिए सिविल अस्पताल सोनीपत भिजवा दिए हैं। सोनीपत पुलिस सड़क दुर्घटना की जांच-पड़ताल में जुट गई है। सड़क हादसे में मृतक तीनों युवकों की पहचान सन्देश निवासी रेवाड़ी, पुलकित निवासी नारनौल और रोहित निवासी गुरुग्राम एमबीबीएस तीसरे वर्ष के छात्र के रूप में हुई है। घायल छात्रों की पहचान नरवीर, अंकित व सोमबीर के रूप में हुई है।

ये भी पढ़ें

पलवल नगर परिषद से चेयरमैन पद के लिए यशपाल विजयी, होडल से इंद्रेश कुमारी ने मारी बाजी

राई थाना प्रभारी देवेंद्र कुमार ने बताया कि देर रात झज्जर-मेरठ हाईवे पर एक कार पत्थरों से जाकर टकरा गई। इसके बाद कार में आग लग गई। आग लगने से तीन लोगों की मौके पर ही मौत हो गई और तीन को गंभीर स्थिति में कार से निकाला गया है। उनका इलाज रोहतक पीजीआई में चल रहा है। पुलिस ने सड़क हादसे की जानकारी परिजनों को दे दी गई है व परिजनों की शिकायत के आधार पर मामले में आगे की कार्रवाई की जाएगी। वहीं दूसरी तरफ एनएचएआई की बड़ी लापरवाही सामने आई है। सड़क बनाने के बाद आखिरकार सड़क के बीचों-बीच पत्थर क्यों लगाए गए थे। यदि सड़क पर पत्थर ना होते तो इतना बड़ी दुर्घटना शायद ना होती।

Share On