Udaipur Murder Case:  मुख्यमंत्री आवास पर उच्च स्तरीय बैठक शुरू, पूरे प्रदेश में धारा 144

राजस्थान के उदयपुर में टेलर कन्हैयालाल की हुई वीभत्स हत्या के बाद पैदा हुआ तनाव अभी खत्म नहीं हुआ है। हालांकि मर्डर के दोनों आरोपी रियाज अंसारी ओर मोहम्मद गौस को पुलिस ने अपनी गिरफ्त में ले लिया है। पुलिस और प्रशासन ने प्रदेशभर में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम कर रखे हैं।

Created By : Pradeep on :29-06-2022 13:42:19 आरोपी रियाज अंसारी ओर मोहम्मद गौस खबर सुनें

राजस्थान के उदयपुर में टेलर कन्हैयालाल की हुई वीभत्स हत्या के बाद पैदा हुआ तनाव अभी खत्म नहीं हुआ है। हालांकि मर्डर के दोनों आरोपी रियाज अंसारी ओर मोहम्मद गौस को पुलिस ने अपनी गिरफ्त में ले लिया है। पुलिस और प्रशासन ने प्रदेशभर में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम कर रखे हैं। प्रदेशभर में धारा-144 लागू है। वहीं इंटरनेट पर भी पाबंदी लगी हुई है। उदयपुर में कर्फ्यू लगा हुआ है। वहां वहां चप्पे-चप्पे पर पुलिस तैनात है। शहर की हर गतिविधि पर पुलिस और प्रशासन के आला अधिकारी कड़ी नजर रखे हुये हैं। राजधानी जयपुर में पुलिस और प्रशासन के आला अधिकारी पल-पल की रिपोर्ट ले रहे हैं।

कन्हैयालाल की हत्या के बाद आक्रोश को शांत करने के लिये सभी आवश्यक कदम उठाये गये हैं। सीएम अशोक गहलोत और कई धर्म गुरुओं ने शांति व्यवस्था बनाये रखने की अपील की है। दूसरी तरफ कन्हैयालाल के शव का पोस्टमार्स्टम हो गया है। इसके लिये सुबह से पुलिस और प्रशासन के उच्चाधिकारी अस्पताल में डेरा डाले हुये थे। अस्पताल के आसपास के इलाके को छावनी में तब्दील कर दिया गया है। पुलिस के बड़े अधिकारी गश्त कर मॉनिटरिंग कर रहे हैं।

कन्हैयालाल की हत्या के विरोध में डूंगरपुर में बंद का आह्वान किया गया है। इसको लेकर भी पुलिस प्रशासन पूरी तरह से अलर्ट मोड पर है। प्रदेश के सभी जिलों में किसी भी अप्रिय गतिविधि को रोकने के लिये पुलिस के बड़े अधिकारी गश्त कर मॉनिटरिंग कर रहे हैं। राजधानी जयपुर में सुरक्षा व्यवस्था के कड़े इंतजाम किये हुये हैं। यहां सभी थानाप्रभारियों को आगामी आदेश तक थाना नहीं छोड़ने के आदेश जारी किये गये है।

सीएम स्वयं पूरे मामले पर बनाये हुये हैं नजर
सीएम अशोक गहलोत स्वयं भी पूरे मामले में नजर बनाये हुये हैं। वे लगातार अधिकारियों से मामले का फीडबैक ले रहे हैं। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी ट्वीट कर घटना की कड़ी निंदा की है। दूसरी तरफ विपक्ष इस घटना को लेकर आक्रोशित हो रहा है। नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया इस घटना को राज्य सरकार का फेल्योर बताया है। भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया, पूर्व सीएम वसुंधरा राजे और पूर्व पीसीसी चीफ सचिन पायलट समेत कई नेताओं ने घटना की कड़ी निंदा की है।

मुख्यमंत्री निवास पर शुरू हुई उच्चस्तरीय बैठक
उदयपुर मर्डर केस के बाद प्रदेश में बने हालात के मद्देनजर जयपुर में मुख्यमंत्री आवास पर उच्च स्तरीय बैठक शुरू हो गई है। सीएम अशोक गहलोत यहां उच्चाधिकारियों के साथ प्रदेश की कानून-व्यवस्था की समीक्षा कर रहे हैं। इस बैठक में गृह राज्यमंत्री राजेंद्र यादव और सीएस उषा शर्मा तथा डीजीपी एमएल लाठर समेत पुलिस और प्रशासन के कई आला अधिकारी मौजूद हैं। सीएम ने हालात की समीक्षा करने के लिये अपना तीन दिवसीय जोधपुर दौरा निरस्त कर आज जयपुर पहुंचे हैं।

सीएम बोले घटना बहुत बड़ी और जघन्य है
उदयपुर की घटना पर सीएम अशोक गहलोत ने एक फिर से बयान देते हुये कहा कि घटना बहुत बड़ी है और जघन्य है। सीएम ने बोले मैंने कल भी कहा था कि इसकी जितनी निंदा करें उतनी कम है। हमने इसीलिए एसआईटी गठित की है। एसआईटी ने कल रात से ही अपना काम शुरू कर दिया है। जयपुर पहुंचते ही लॉ एंड ऑर्डर को लेकर बैठक कर रहे हैं।

Share On