Weather Update: चक्रवाती तूफान `असानी` इन राज्यों में देगा दस्तक, 125 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चलेंगी हवाएं

बंगाल की खाड़ी में बना कम दबाव का क्षेत्र आज यानी रविवार को चक्रवाती तूफान में बदल जाएगा। इस तूफान को असानी नाम दिया गया है।

Created By : Pradeep on :08-05-2022 12:51:41 प्रतीकात्मक तस्वीर खबर सुनें

बंगाल की खाड़ी में बना कम दबाव का क्षेत्र आज यानी रविवार को चक्रवाती तूफान में बदल जाएगा। इस तूफान को असानी नाम दिया गया है। ये इस साल प्री मानसून सीज़न में बनने वाला पहला समुद्री तूफान है। वैसे इस बार मार्च के महीने में दो बार कम दबाव का क्षेत्र बना, लेकिन एक भी समुद्री तूफान में तब्दील नहीं हो सका। कम दबाव के क्षेत्र के चलते इस वक्त अंडमान में ज़ोरदार बारिश हो रही है। लेकिन अब इस तूफान के चलते बारिश की गतिविधियां देश के कई इलाकों में बढ़ जाएंगी। फिलहाल ये तूफान कहां है और देश के किन राज्यों पर इसका असर दिखाई देने वाला है। जानें हमारी इस खबर है।

ये भी पढ़ें

India Corona Update: देश में पिछले 24 घंटे में मिले 3451 नए मरीज,  40 ने गंवाई जान

इस वक्त ये तूफान कहां है
आपको बता दें कि दक्षिण पूर्व बंगाल की खाड़ी के ऊपर बना कम दबाव का क्षेत्र उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ रहा है। 8 मई को सुबह 5 बजकर 30 मिनट पर ये 16 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से आगे बढ़ रहा था। ये निकोबार द्वीप समूह से उत्तर-पश्चिम में लगभग 350 किलोमीटर दूर है। पोर्ट ब्लेयर से इसकी दूरी 300 किमी दक्षिण-पश्चिम की ओर है। फिलहाल विशाखापत्तनम से इस तूफान की दूरी 970 किलोमीटर दक्षिण-पूर्व की ओर है। जबकि ओडिशा के पूरी से इसकी दूरी 1030 किलोमीटर दक्षिण-पूर्व में है।

ये भी पढ़ें

हिमाचल के चंबा से 40 लाख की ठगी का मुख्य आरोपी फरीदाबाद में गिरफ्तार, 10 मई तक पुलिस रिमांड पर

इस रास्ते से आएगा यह तूफान
यह तूफान 10 मई तक उत्तर-पश्चिम की तरफ आगे बढ़ेगा। यानी ओडिशा और आंध्र प्रदेश के तटों की तरफ ये आगे बढ़ रहा है। लेकिन मौसम विभाग के मुताबिक 10 मई की शाम को इसका रास्ता बदल जाएगा। यानी विशाखापत्तनम के पास आ कर ये तूफान उत्तर-पूर्व की दिशा में घूम जाएगा। ये तट के समानांतर आगे बढ़ेगा।

ये भी पढ़ें

जबरन बनवाए शारीरिक संबंध, फिर मां-बेटे ने रेप में फंसाने की धमकी देकर हड़पे 30 लाख

इतनी रफ्तार से चलेंगी हवाएं
राहत की बात ये है कि ये तूफान भारत के तट पर सीधे लैंडफॉल नहीं कर रहा है। लेकिन फिर भी हवा की रफ्तार बनी रहेगी। 8 मई की शाम हवा की रफ्तार 80-90 किलोमीटर प्रतिघंटा रहेगी। लेकिन 9 मई को तूफान की रफ्तार 125 किलोमीटर प्रतिघंटे तक पहुंच सकती है। यानी अगर सावधानियां नहीं बरती गई तो बड़े पैमाने पर जानमाल का नुकसान हो सकता है। 12 मई को हवा की रफ्तार बंगाल के तटीय इलाकों में 80-90 किलोमीटर प्रति घंटा रह सकती है।

ये भी पढ़ें

सीबीआई ने आप विधायक जसवंत सिंह के कई ठिकानों पर दी दबिश, करोड़ों रुपये की बैंक धोखाधड़ी का है आरोप

बिहार सहित इन राज्यों में होगी बारिश
तटीय ओडिशा और उत्तरी तटीय आंध्र प्रदेश के आसपास के क्षेत्रों में 8 मई से ही बारिश की गतिविधियां शुरू हो जाएगी। इसके बाद 10 मई को इन इलाकों मे भारी बारिश हो सकती है। 11-12 मई को उत्तर बंगाल, बिहार और झारझंड के इलाकों तेज़ हवाओं के साथ भारी बारिश हो सकती है। साथ ही नॉर्थ-ईस्ट में भारी बारिश हो सकती है।

Share On