हरियाणा: तावडू में पेयजलापूर्ति नहीं होने की वजह से बिफरी महिलाएं, बीते 10 दिनों से क्षतिग्रस्त है पाइप लाइन

नूंह जिले के तावडू से हरियाणा सरकार के विकास के दावों की पोल खोलने वाली खबर सामने आई है। तावडू में बीते १० दिनों से पीने के पानी की पाइप लाइन क्षतिग्रस्त है। इस वजह से वहां पानी नहीं पहुंच पा रहा है। इसको लेकर नाराज महिलाओं ने एसडीएम कार्यालय पहुंचकर विरोध प्रदर्शन किया।

Created By : Shiv Kumar on :20-06-2022 22:25:35 एसडीएम कार्यालय के अधीक्षक को ज्ञापन सौंपती महिलाएं खबर सुनें

मोहम्मद असद, तावडू
शहर के वार्ड नं 11 में पिछले दस दिनों से जल आपूर्ति बाधित चल रहीं है। जिसके चलते वार्ड वासी पेयजल समस्या को लेकर बेहद परेशान है। समस्या को लेकर वार्डवासियों की और से जनस्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग के अधिकारियों को अवगत कराया गया। लेकिन समस्या का हल नहीं हो पाया।

ये भी पढ़ें

महाराष्ट्र के सांगली में एक ही परिवार के नौ लोगों ने की खुदकुशी, पूरे क्षेत्र में मचा हड़कंप


इससे नाराज महिलाओं का विभाग के खिलाफ सोमवार को गुस्सा फूट गया और वार्ड पार्षद ज्ञानी वर्मा के नेतृत्व में पहले जन स्वास्थ्य विभाग कार्यालय इसके बाद एसडीएम कार्यालय के बाहर एकित्रत होकर विभागीय कर्मचारियों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करते हुए नारेबाजी की। नाराज महिलाओं ने वार्ड पार्षद ज्ञानी वर्मा के नेतृत्व में एसडीम कार्यालय के अधीक्षक को समस्या की बाबत एक ज्ञापन सौंपा। अधीक्षक के शीघ्र समस्या के आश्वासन मिलने पर नाराज महिलाएं वापिस लौट गई। वहीं गांव कालरपुरी में भी विभाग के नलकूप की मोटर खराब होने के कारण एक पखवाड़े से दलित मौहल्लें की पेयजलापूर्ति ठप्प है। जिसकी वजह से लोग परेशान है।


तावडू शहर वार्ड नं 11 निवासी महिला सोनम, सोनिया, रेखा, सुनीता, कमलेश, मीना व माया आदि ने बताया कि पिछले करीब 10 दिन पहले सीवर लाइन कार्य के चलते पेयजल आपूर्ति पाइप लाइन क्षतिग्रस्त हो गई थी। जिसके कारण उनके वार्ड में जल आपूर्ति ठप्प है। टैंकरों के सहारे जल आपूर्ति हो रही है। जिसके चलते पानी की प्रयाप्त पूर्ति नहीं हो पा रहीं है। इसके चलते वार्ड में पानी के लिए हाहाकार मचा हुआ है। महिलाओं के मुताबिक समस्या को लेकर नगर पालिका प्रशासन व जन स्वास्थ्य विभाग में कई बार फरियाद के बावजूद समस्या का निदान नहीं हो पाया।

ये भी पढ़ें

अग्निपथ योजना: कांग्रेस नेता सहाय ने पीएम मोदी पर की आपत्तिजनक टिप्पणी, भाजपा ने किया पलटवार

अधिकारियों की लापरवाही के चलते उन्हें मजबूरन विरोध प्रदर्शन के लिए विवश होना पड़ा है। नाराज महिलाओं ने चेतावनी देते हुए कहा कि यदि जल्द ही उनकी समस्या का हल नहीं हुआ तो वह मुख्य सड़क पर जाम लगाने के लिए मजबूर होगी। जिसके लिए प्रसासन स्वंय जिम्मेदार होगा। जन स्वास्थ्य विभाग के उपमंडल अधिकारी आबिद हुसैन ने बताया कि वार्ड में सीवरेज लाइन कार्य के दौरान मुख्य जल आपूर्ति पाइप लाइन क्षतिग्रस्त होने के कारण पेयजल की किल्लत उत्पन्न हुई है। लाइन बिछाने का काम जारी है। शाम तक समस्या का समाधान हो जाएगा। जिसके बाद वार्ड में पानी की समस्या नहीं होगी।

Share On